Author Archives: admin

‘दिव्य प्रेरणा-प्रकाश’ से बदला जीवन

एक बार पूज्य बापूजी ने मुझे ‘दिव्य प्रेरणा-प्रकाश’ पुस्तक पढ़ने को कहा था । मैंने उसी दिन से पुस्तक पढ़ने का नियम ले लिया, जिससे मेरे जीवन में बहुत बदलाव आया । मेरी बुद्धि और भी तेज हुई, तरक्की की नयी-नयी युक्तियाँ सूझने लगीं । पहले मुझे लगता था कि खाना-पीना, ऐश करना यही जिंदगी है लेकिन अब पता चला ...

Read More »

‘‘बापूजी को निर्दोष बरी करना ही पड़ेगा’’ – सुप्रसिद्ध न्यायविद् डॉ. सुब्रमण्यम स्वामी

  जोधपुर में पूज्य बापूजी से मिलने आये सुप्रसिद्ध न्यायविद् डॉ. सुब्रमण्यम स्वामी ने पत्रकारों से बातचीत में कहा : ‘‘हमें भी विधि और कानून के बारे में ज्ञान है । बापूजी के जोधपुर केस की जो परिस्थिति है उसको मैंने जाना, मुझे बड़ा आश्चर्य हुआ कि जाँच की स्थिति में होते हुए भी बापूजी 20 महीने से जेल में ...

Read More »

एफआईआर का पोस्टमॉर्टम

ऍफ़ आइ आर

  – वरिष्ठ पत्रकार श्री अरुण रामतीर्थकर पूज्य बापूजी के खिलाफ जोधपुर और सूरत में घृणास्पद आरोप लगाकर एफआईआर दर्ज करवायी गयी यह बात आप सबको मालूम है। लेकिन एफआईआर में क्या लिखा है, कितनी सच्चाई है, उसमें कितनी झूठी बातें हैं – यह बात एफआईआर पढ़ने पर ही पता चल जाती है। पहले हम उत्तर प्रदेश की लड़की द्वारा ...

Read More »

सुप्रसिद्ध न्यायविद् सुब्रमण्यम स्वामी

  ” यह केस तो तुरंत रद्द होना चाहिए “ सुप्रसिद्ध न्यायविद् सुब्रमण्यम स्वामी ने पूज्य बापूजी के खिलाफ हुई अंतर्राष्ट्रीय साजिश का खुलासा करते हुए कहा कि ‘‘विदेश से आये हुए धर्म-परिवर्तन करनेवाले लोगों का आशारामजी बापू ने डटकर मुकाबला किया । गुजरात और अन्य क्षेत्रों में लालच देकर धर्म-परिवर्तन करने के प्रयास को विफल किया । इससे वेटिकन ...

Read More »

श्री अशोक सिंहलजी

‘‘बापूजी को जमानत मिलनी चाहिए’’ – श्री अशोक सिंहलजी, विश्व हिन्दू परिषद के मुख्य संरक्षक व पूर्व अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष संत आशारामजी बापू को फँसाया गया है । इस देश में हमारे संतों को बदनाम करने का बहुत बड़ा षड़्यंत्र चला है । हिन्दू धर्म, संस्कृति को नष्ट करने के लिए ये केवल हम पर केस ही नहीं चलाते हैं, अपितु ...

Read More »

भारत में मानव-अधिकार नहीं हैं ?

– मिसेस ए. हिग्गिंस, लंदन, इंग्लैंड (अंग्रेजी में प्राप्त हुए ई-मेल का अनुवाद) मैं एक ५८ वर्षीय महिला हूँ, जिसका जन्म इंग्लैंड में हुआ था । मेरे माता-पिता के धर्म अलग-अलग थे । उन्होंने मुझे कोई भी धर्म अपनाने की स्वतंत्रता दी । मैंने बहुत सारे धर्म देखे लेकिन उनमें से कोई भी मुझे मेरे अनुकूल नहीं लगा । मैं ...

Read More »

महंत श्री रामगिरि बापू

”  वे लोग बड़े भाग्यशाली हैं, जिनको बापूजी जैसे महान सद्गुरु मिले हैं । कितनी भी आँधी आ जाय, पहाड़ टूट पड़ें, दरिया में से पानी बाहर आ जाय लेकिन बापूजी के प्रति लोगों की जो श्रद्धा है, उसको कोई कम नहीं कर सकता । ” — महंत श्री रामगिरि बापू, महानिर्वाणी अखाड़ा

Read More »

रामचैतन्य बापूजी

” बापूजी ने हमको बहुत प्यार दिया है, सभी संतों को प्यार देते हैं । जब भी हमारी जरूरत पड़ेगी, हम बापूजी के लिए खड़े हैं । ” — संत श्री रामचैतन्य बापूजी, महामंत्री, अखिल भारतीय साधु समाज

Read More »

पू. डॉ. जयंत आठवलेजी

” परम पूज्य आशारामजी बापू की जीवनगाथा ज्ञात होने पर कोई भी व्यक्ति जिसे भगवान में आस्था है, उनके चरणों में नतमस्तक होगा । बापूजी के संदर्भ में मनचाहा भाष्य करनेवालो ! क्या आपमें उनके समान सामाजिक, धार्मिक एवं राष्ट्रीय कार्य करने का साहस है ? पूज्य आशारामजी बापू एवं उनका सम्पूर्ण साधक परिवार सामाजिक सेवाकार्य करने में अग्रणी हैं ...

Read More »

श्री रमेश शिंदे

” मेडिकल रिपोर्ट में लिखा है कि ‘उस लड़की के बदन पर खरोंच भी नहीं है’ तो बाकी की तो बात ही नहीं बनती है । निर्दोष बापूजी को जमानत मिले । ” —  श्री रमेश शिंदे, राष्ट्रीय प्रवक्ता, हिन्दू जनजागृति समिति

Read More »