श्री निश्चलानंद सरस्वतीजी

 

nishchlanand saraswatiji

‘‘षड्यंत्र के तहत ही हिन्दू आस्था, हिन्दू संतों पर कुठाराघात किया जा रहा है । संत आशारामजी बापू के मामले में जल्द ही दूध-का-दूध और पानी-का-पानी हो जायेगा ।’’

-जगन्नाथपुरी मठ के जगद्गुरु शंकराचार्य
श्री निश्चलानंद सरस्वतीजी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*